Uncategorized

जिले की तहसील कार्यालय में जमकर उड़ाई जा रही है सरकारी आदेशो की धज्जियां…..

नूह(बिलाल अहमद) : नूह जिले की पुन्हाना तहसील कार्यालय में सरकार के नियमों कि जहां खुलकर धज्जिया उठाई जा रही है वहीं सरकार द्वारा निर्धारित फीस से अधिक पैसे वसूले जा रहे है। जमीन कि मुटेशन चढाने के लिये लोगों को जो रशीद दी जाती है उसमें पैसे वसूले जाने का तो जिक्र किया गया है लेकिन कितने पैसे लिये इसका कोई जिक्र नहीं हैं।
इसलाम ने बताया कि उसने 20 मार्च को एक रजिस्ट्री पुन्हाना तहसील कार्यालय में कराई थी। उसको इंतकाल (मुटेशन) चढाने कि जो रशीद दी गई उसमें पैसे वसूल किये जाने का तो जिक्र है लेकिन कितनी सरकारी फीस असल है इसका उसमें कोई जिक्र नहीं है। उन्होने बताया कि उससे कुल पांच सौ रूपये लिये गये लेकिन जो रशीद दी गई है उसमें पैसे दर्शाऐ नहीं गये हैं।
पुन्हाना तहसील पर कार्यत वरिष्ट ऐडवोकेट रशीद अहमद का कहना है कि जब सरकार ने इंतकाल, फर्द आदि लेने पर उसकी फीस कि रशीद देने और जितनी फीस ली गई उसका जिक्र करने के आदेश दे रखे है लेकिन रिश्वतखोरी के चलते कर्मचारी लोगों को रशीद तो देते हैं लेकिन उसपर पैसे नहीं लिखते हैं। उन्होने बताया कि रजिस्ट्री कि कम्प्यूटर फीस 200 रूपये है और रजिस्ट्री में भी 200 रूपये ही चढाऐ जाते हैं लेकिन लोगों से दो कि जगह पांच सौ रूपये वसूले जाते हैं। वहीं अपनी जमीन की जो लोग फर्द लेते हैं उसपर लिखा जाता है कि ‘‘श्रीमान जी, तस्दीक की जाती है नकल मुताबिक असल है,उजरत हस्ब जावता नगद वसूल पाई गई है’’ यानि फीस तो वसूल पाई पर कितनी ली गई इसका रशीद में कोई जिक्र नहीं किया जाता है। इसकी आड में पटवारी और तहसील के कर्मचारी मनमानी फीस वसूलते हैं। वहीं तहसील कम्प्यूटर ऑपरेटर द्वारा इंतकाल (मुटेशन) के लिये जो रशीद दी जाती है उस पर भी कोई शुल्क नहीं दर्शाया जाता हैं।

About the author

Related Posts


Notice: Undefined offset: 0 in /home/worldeye/public_html/wp-content/themes/javo-directory/library/layout.php on line 197

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.