चंडीगढ़: फिल्म से पहले बजने वाले राष्ट्रगान पर खड़े होने को लेकर छिड़े विवाद में हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। विज ने लोगों की मानसिकता पर सवाल उठाते हुए कहा कि हम लोग सिनेमाघर में पिक्चर के लिए तीन घंटे बर्बाद कर सकते हैं लेकिन अपने राष्ट्रगान के सम्मान में 52 सैकेंड खड़े होने पर इतना शोर क्यों हो रहा है। विज ने कहा कि राष्ट्रगान का सम्मान करना चाहिए और उसके सम्मान में खड़े होने में कोई बुराई नहीं है। एेसा करने के लिए किसी को बाध्यत तो नहीं किया जा सकता लेकिन देश के नागरिक होने के नाते हमें एेसा करने में गुरेज भी नहीं करना चाहिए।विज ने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि देश का हर नागरिक जो सिनेमाहाल में पिक्चर देखने जाता है वो 52 सैकेंड देश के सम्मान में जरूर निकाले और खड़े होकर तिरंगे को सैल्यूट करें। गौरतलब है कि बीते दिन सुप्रीम कोर्ट ने एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा था कि थिएटर में बजने वाले राष्ट्रगान के दौरान खड़े न होने वालों को देशविरोधी नहीं कहा जा सकता।
News

राष्ट्रीय गान पर खड़े होने की बहस में कूदे विज, लोगों की मानसिकता पर उठाए सवाल…..

चंडीगढ़: फिल्म से पहले बजने वाले राष्ट्रगान पर खड़े होने को लेकर छिड़े विवाद में हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। विज ने लोगों की मानसिकता पर सवाल उठाते हुए कहा कि हम लोग सिनेमाघर में पिक्चर के लिए तीन घंटे बर्बाद कर सकते हैं लेकिन अपने राष्ट्रगान के सम्मान में 52 सैकेंड खड़े होने पर इतना शोर क्यों हो रहा है।

विज ने कहा कि राष्ट्रगान का सम्मान करना चाहिए और उसके सम्मान में खड़े होने में कोई बुराई नहीं है। एेसा करने के लिए किसी को बाध्यत तो नहीं किया जा सकता लेकिन देश के नागरिक होने के नाते हमें एेसा करने में गुरेज भी नहीं करना चाहिए।विज ने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि देश का हर नागरिक जो सिनेमाहाल में पिक्चर देखने जाता है वो 52 सैकेंड देश के सम्मान में जरूर निकाले और खड़े होकर तिरंगे को सैल्यूट करें।

गौरतलब है कि बीते दिन सुप्रीम कोर्ट ने एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा था कि थिएटर में बजने वाले राष्ट्रगान के दौरान खड़े न होने वालों को देशविरोधी नहीं कहा जा सकता।

About the author

Related Posts

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.