Uncategorized

विरोध स्वरूप कैथल कालेज के विद्यार्थी प्रतियोगिता को बीच में ही छोडक़र लौटे…..

कैथल : जन संचार एवं मीडिया टैक्नोलॉजी संस्थान कुरूक्षेत्र में हुआ अनोखा क्वीज जहां क्वीज मास्टर बताता है कि भारत में 28 राज्य हैं। (वास्तविकता में 29 हैं), वहीं उन्होंने बताया की प्रसार भारती की स्थापाना 1930 में हुई है, जबकि सच्चाई यह है कि वर्ष 1997 में प्रसार भारती की स्थापना हुई थी। विश्वविद्यालय में हो रहे मीडिया उत्सव में हर कालेज से एक ही टीम भाग ले सकती थी। लेकिन आयोजकों ने अपने संस्थान की 3 टीमों को शामिल किया। इस प्रकार विध्वविद्यालय खुद नियम बनाता है और खुद तोड़ते हैं। इसके विरोध में चितकारा यूनिवर्सिटी व डा. भीम राव अंबेडकर कालेज कैथल की टीम ने इसका विरोध करते हुए प्रतियोगिता को बीच में ही छोड़ दिया। कैथल कालेज के छात्र नसीब, राहुल, संजीव व रिम्पी ने बताया कि इससे पता चलता है कि देश के नए पत्रकारों का भविष्य खतरे में है। क्वीज मास्टर सही को गलत बता रहा है। उनका कहना है कि हमारा निर्णय अंतिम है। इन सबके विरोध स्वरूप उन्होंने प्रतियोगिता को बीच में ही छोडऩा बेहतर समझा, क्योंकि जो लोग देश की महत्वपूर्ण जानकारी ही गलत बता रहे हैं, ऐसी प्रतियोगिता का कोई औचित्य नहीं है।

About the author

Related Posts

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.